Free me website bnakar paise kaise kmaye

Free me website bnakar paise kaise kmaye

क्या आप भी अपना खुद का वेबसाइट बनाना चाहते हैं, और लोगों के साथ अपना ज्ञान शेयर करना चाहते हैं अपने लेखन के skill से लोगों के पास आप अपनी बात पहुंचाना चाहते हैं ,अपनी वेबसाइट के द्वारा ? 

तो आज हम इसी बारे में चर्चा करेंगे कि कैसे आप खुद का एक वेबसाइट कैसे बना सकते हैं, वह भी बिलकुल फ्री में। 

Free me website kaise bnaye। All steps..

  • सबसे पहले Blogspot.com की सहायता से एक वेबसाइट बनाना पड़ता है
  • हो सके तो उसमें domain जोड़ना पड़ता है
  • अपनी वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल से कनेक्ट करना पड़ता है
  • अपनी वेबसाइट को गूगल एनालिटिक्स से कनेक्ट करना पड़ता है
  • अपनी वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस से कनेक्ट करना पड़ता है
  • अपनी वेबसाइट में एक बहुत अच्छा थीम लगाना पड़ता है

वेबसाईट कहा बनाए ?

वेबसाइट बनाने में सबसे पहली बात आती है CMS की जिसका मतलब कि आप कहां पर अपनी वेबसाइट को बनाना चाहते हैं, वैसे तो बहुत सारे प्लेटफार्म है वेबसाइट को बनाने और उसको रन कराने के लिए लेकिन ब्लॉगर और वर्डप्रेस यह दोनों सबसे ज्यादा चलने वाले प्लेटफार्म में जिन पर लाखों नहीं करोड़ों लोगों अपनी वेबसाइट बनाकर सालों साल से चला रहे हैं। 

Free me blloger par website kaise bnaye

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आप कैसे फ्री में गूगल पर अपनी वेबसाइट को बनाकर पब्लिश कर सकते हैं और उसमें अपना मनचाहा ज्ञान देकर अपने लिए कुछ पैसे कमा सकते हैं गूगल के द्वारा, तो इस आर्टिकल में हम आपको पूरी जानकारी देंगे कि कैसे आपको एक website बनानी है फ्री में और उसको कैसे रन करना है और कैसे-कैसे उससे कमाई हो सकती है चलिए जानते हैं

फ्री में वेबसाइट बनाने के लिए सबसे पहले तो आपको ब्लॉगर पर आना है क्योंकि यह गूगल की सबसे सेफ सिक्योर एंड फास्ट सर्विस है जिससे आप अपने लिए फ्री में वेबसाइट बनाकर गूगल की मदद से ही होस्ट कर सकते हैं , इसमें ना तो आपको डोमेन का खर्चा देना है और ना ही किसी होस्टिंग का खर्चा देना है

ब्लॉगर पर वेबसाइट बिल्कुल फ्री में बनता है इसके लिए आपको एक भी पैसा देने की जरूरत नहीं है आगे हम आपको कुछ तब बताएंगे जिनमें आपको कुछ पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं अगर आप चाहे तो उनको छोड़ भी सकते हैं

जैसे = सबसे पहले आप एक कस्टम डोमेन ले सकते हैं क्योंकि कस्टम डोमेन बहुत जल्दी रैंक होता है ब्लॉगर पर हमने बहुत सारी वेबसाइट में काम किया है और पाया है कि जो (www.yoursite.blogspot.com) से डोमिन आता है वह ज्यादा रैंक नहीं कर पाता क्योंकि उसमें गूगल का एक लेबल मिला होता है जो उसके लास्ट में यूआरएल के रूप में होता है जैसे (www.yousrsite.blogspot.com) तो इससे बचने के लिए हम कस्टम डोमेन का यूज करते हैं जैसे (www.yoursite.com) ताकि आपके साइट की पहचान build-up हो सके कि हां इसी बारे में है यह इस वेबसाइट। 

Website ke liye .in doamin le ya .com

बहुत लोगों को चिंता होती है कि .com ले या .in डोमेन ले तो भाई सुन लो अगर आपके पास थोड़े पैसे हैं तो आप .com ही लीजिए और अगर आपकी इनकम कम है अगर आप नई शुरुआत कर रहे हैं तो .in उनके लिए बहुत अच्छा रहेगा इंडिया वालों के लिए जो इंग्लिश में नहीं लिख पाते हैं और हिंदी में अपनी   article लिखते है, हैं तो हिंदी कंटेंट राइटर के लिए .in domain बेस्ट है बाकी अगर आपको इंग्लिश आती है US, UK के शहरों में आप अपने साइट को रैंक करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आप डॉट कॉम डोमेन जरूर लीजिए क्योंकि वह मस्त होता है .in डोमेन से।

Blloger pe website bnane ke steps..

चलिए संक्षिप्त में समझते हैं कि एक वेबसाइट बनाने के लिए आपको क्या-क्या करना पड़ता है।

  1. सबसे पहले आप www.blogspot.com पर चले जाइए।
  2. उसके बाद create new blog कीजिए।
  3. उसके बाद अपने ब्लॉक का एक अच्छा सा नाम चुन लीजिए।
  4. ब्लॉक का अच्छा नाम चुनने के बाद उसका एक बढ़िया सा डिस्प्ले नेम ले लीजिए जो आपको होम पेज पर दिखेगा।
  5. फिर आपको अपने वेबसाइट का url डाल लेना है जो भी आप चाहते हैं अगर url valid नहीं होता है तो कोई दूसरा यूआरएल अपने वेबसाइट से मिलता जुलता डाल लेना है।
  6. फिर Next पर क्लिक करेंगे तो आपका एक नया फ्री में ब्लॉगर website बनकर तैयार हो जाएगा।

और इस तरह से आपने एक फ्री में वेबसाइट बना ली ब्लॉगर के सहायता से चलिए अब इसके सेटअप के बारे में जान लेते हैं।

ब्लॉगर वेबसाइट को कस्टमाइज कैसे करें ?

वेबसाइट को कस्टमाइज करने में सबसे बड़ा हाथ वेबसाइट टेम्पलेट का होता है अगर आप का थीम जबरदस्त है तो आपके वेबसाइट के लोग भी बहुत बढ़िया होगी।
नीचे हमने कुछ थीम प्रोवाइड करा रखे हैं जिनका यूज़ आप करके अपने ब्लॉग को एक प्रोफेशनल लुक दे सकते हैं वह भी डेमो लिंग के साथ हमने दिया है ताकि यह पहले उसका डेमो देख लीजिए अगर आपको अच्छा लगा वह थी उस वेबसाइट के जैसा आप भी बनाना चाहते हैं तो उस फाइल को डाउनलोड कर लीजिए। 👉 डाउनलोड Themes 

ब्लॉगर का थीम कैसे चेंज करें ?

ब्लॉगर थीम चेंज करने के 2 तरीके या तो आप रिस्टोर करके फाइल को चुन करके अपनी थीम को चेंज कर सकते हैं या फिर थ्री डॉट पर क्लिक करके EDIT HTML में जाकर पूरा कोड हटाकर और फिर हमने जो आपको  थीम दे रखे हैं इनको एक HTML EDITOR APP (trab editor , an writer free) में ओपन करके उसका पूरा कोड कॉपी करके और यहां पर आना है ब्लॉगर पर और लॉन्ग प्रेस करके select all कर के वन कट वाला या कोई भी बटन दबा देंगे कीबोर्ड में से तो पूरा कोड हट जाएगी फिर इस थीम का पूरा कोड हटा करके ब्लॉगर का पिछले वाला अपना नया वाला कोड इसमें पूरा लोंग प्रेस करके पेस्ट कर देना है  और फिर सेव कर देना इससे आपका थीम और वेबसाइट का लुक भी चेंज हो जाएगा।

अगर आप रिस्टोर वाले ऑप्शन से थीम को चेंज करते हैं तो पिछले वाले थीम के कुछ कोड भी उसी में रह जाते हैं जिसकी वजह से वेबसाइट में गड़बड़ी आ जाती है तो जब भी आप करें चेंज करे एडिट एचटीएमएल वाले से ही करें अगर फिर भी  restore से कर रहे हैं तो देख ले अगर आप की वेबसाइट पर कोई चेंज ना आए तो वह भी अच्छा है लेकिन 70 परसेंट केस में वेबसाइट पर् इफेक्ट आता है रिस्टोर वाले ऑप्शन से तो आप एडिट एचटीएमएल ही यूज कीजिए पूरे कोड को कॉपी करके और इधर पेस्ट कर दीजिए ऐसे आपकी वेबसाइट का पूरा कोड हट जाता है पीछे वाला और एक नया कोड आ जाता हैं एकदम फ्रेश वाला।

वेबसाइट को गूगल के प्रोडक्ट के साथ कनेक्ट करें

वेबसाइट को सर्च कंसोल में कैसे ऐड करें

सर्च कंसोल मैं अपने वेबसाइट का यूआरएल ऐड करने के लिए आपको सर्च कंसोल में चले जाना है और वहां पर आपको लॉग इन करना है, इसी गूगल अकाउंट से और साइट को ऐड करने के लिए सबसे पहले एक प्रॉपर्टी बनाना है , create a new property पर जब आप क्लिक करेंगे तब आपको दूसरा वाला ऑप्शन चुनना है URL PREFIX वाला फिर अपने वेबसाइट का यूआरएल उस में डाल देना है और उसे सेव करना है ज्यादातर केस में ब्लॉगर वाली वेबसाइट को बिना किसी सबूत के ही अप्रूव कर दिया जाता है लेकिन अगर नहीं होता है तो आपको वहां पर अप्रूव करने के लिए 3,4 मेथड दिए होंगे जिसमे आपको HTML TAG hint ऐसा कोड  <meta.../> वाला ऑप्शन चुनना है वहां पर आपको एक कॉपी करने को मिलेगा कोड उसको कॉपी कर लीजिए और आपको अपने थीम में आना है अपने <head> tag के नीचे पेस्ट कर देना है और फिर अपनी थीम को सेव कर देना है और फिर वहां जाना है सर्च कंसोल में और वहां भी वेरीफाई करने के लिए क्लिक करना है अगर आपके थीम में कोड लग गया होगा तो आपका सर्च कंसोल 4 sec में वेरीफाई कर लेगा,और अब  वहां से आपके सारी यूआरएल को गूगल में दिखाने के लिए एक जरिया बन जायेगा।

वेबसाइट को सर्च कंसोल में कैसे ऐड करें

Apni website ko Google analytics mein kaise add Karen

सर्च कंसोल में ऐड करने के बाद आपको गूगल एनालिटिक्स में अपनी वेबसाइट पर ऐड करना पड़ता है ताकि आपको पता लग सके कि आपके वेबसाइट पर कितने लोग हैं कहां से हैं किस फोन से है किस ब्राउज़र से है मेल है या फीमेल है कितनी देर तक है और किस पोस्ट पर है यह सब आप पता लगा सकते हैं गूगल एनालिटिक्स की मदद से तो इसको कैसे सेट अप करना है चलिए जानते हैं
सबसे पहले आपको गूगल एनालिटिक्स खोल लेना है
उसके बाद आपको अपना वेबसाइट का यूआरएल वहां पर जोड़ने के लिए एक प्रॉपर्टी बनानी पड़ेगी

सबसे पहले अपने अकाउंट का नाम डाल ले क्योंकि आप एक अकाउंट बना रहा है
फिर अपने प्रॉपर्टी में आपको आपका नाम चुन लेना है आप अपना या अपनी साइट का नेम भी रख सकते है
फिर आपको नेक्स्ट करना है
फिर आपको अपना देश curency और timezone चुन लेना है। 
जरूरी बात वहां पर आपको सो एडवांस ऑप्शन पर क्लिक करना है और वहां पर Create Universal Property Id पर भी क्लिक कर लेना है और उसको ऑन कर लेना है इससे आपकी आईडी बनेगी जो पूरे देश के लिए काम करेंगे पूरी दुनिया में,इसके लिए वह आपकी site का यूआरएल मांगेगा आप उसको यूआरएल दे दीजिएगा बिना https के www से स्टार्ट करके और G4 और यूनिवर्सल आईडी दोनों एक साथ बना लीजिएगा वहां पर आपको सिलेक्टेड मिल जाएगा पहले वाला उसी पर टकराई दीजिए G4 और Ua दोनों बना लीजिए
उसके बाद आपको फिर से नेक्स्ट करना है
फिर वह आपके साइड के बिजनेस के बारे में जानना चाहेगा पूछेगा कि आप कितने लोग हैं वेबसाइट को चलाने वाले तो आप पहला वाला सेलेक्ट कर लीजिएगा मतलब तीन से चार आदमी या अपने वाला उसके बाद आपको कैटेगरी पूछेगा तो आप उसमें अपनी वेबसाइट का कैटेगरी डाल दीजिएगा जिस बारे में आपके साइट है इस बारे में आपके साइड बनने वाली है उसके बाद आप नीचे सभी ऑप्शन को ठीक कर लीजिए ताकि वह अच्छे से आपके साइट को देखकर आपको डाटा प्रोवाइड करा सके सभी से लिख कर लेने के बाद आपको मिस करना है और वहां से आपको क्रिएट करना है क्रिएट करेंगे तो आपको एक लंबी सी पॉपअप खुलकर आएगी उसमें आपको एक्सेप्ट करके कंटिन्यू कर देना है पूरे टर्म एंड कंडीशन को और ऐसे आपका एक यूनिवर्सल प्रॉपर्टी आईडी बनकर तैयार हो जाएगा जो आप की वेबसाइट के पूरे ट्रैफिक के बारे में आपको खबर देता रहेगा।

केवल अकाउंट बनाने से कुछ नहीं होगा वहां पर आपको एक कोड मिलेगा veiw tag instructions पर क्लिक करेंगे तो आपको एक एचटीएमएल टैग मिलेगा उसको भी आपको अपने ब्लॉगर के टाइम मिलेगा कर हेड के नीचे पेस्ट करना पड़ेगा और सेव करके यहां से ही सेव कर दीजिए
यह प्रक्रिया G4 सेटअप के लिए है जो अभी नई नई आई है अगर आपको पिछले वाला तरीका अपनाना है तो पहले आपको प्रॉपर्टी में से यूनिवर्सल आईडी वाले को UA आईडी को सिलेक्ट करना है और वहां पर आपको एक कोड मिल जाएगा (UA-12345678-9) उसको कॉपी कीजिए और ब्लॉगर की सेटिंग में जाके गुगल analytics code जो सेटिंग में  5 no.पर मिलेगा उसमे ये 10 अंक का कोड डाल के सेव करे पहले फिर से ईसका भी एक कोड ही आता है नीचे स्क्रॉल कर के  जाएंगे तो एक उसका भी कोड आता है अब ये आपको खुद डिसाइड करना है कि आप किस वाले प्रॉपर्टी में देखना चाहते हैं तो मैं आपको सजेस्ट करूंगा कि आप UA वाले को ही चुनिए क्योंकि यह जो है आपका पूरा का पूरा डिटेल अच्छी तरह से साफ सुथरे शब्दों में दिखा देता है तो UA वाले कोड को ही अपने थीम में पेस्ट कीजिए वह GA वाला को थोड़ा सा क्रिटिकल है नए यूजर उसे समझ नहीं पाएंगे तो पहले ये UA वाला कोड ही थीम में डाल के सेव करे ये कोड कुछ ऐसा होता है 
<!-- Global site tag (gtag.js) - Google Analytics --> dir="ltr"><script async='async' src='https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-xxxxxxxxxx-x'/> <script> window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag(&#39;js&#39;, new Date()); dir="ltr"> gtag(&#39;config&#39;, &#39;UA-XXXXXXXX-X&#39;); </script>

Xx में आपका कोड रहेगा
ईससे आपका ब्लॉकर गूगल एनालिटिक्स से कनेक्ट हो जाएगा

आप मेन बात आती है कि आप ब्लॉगर से कमाई कैसे करेंगे तो उसके लिए आपको अपने वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस में जोड़ना होगा तो चलिए जानते हैं

गूगल एनालिटिक्स से अपनी वेबसाइट को कैसे कनेक्ट करें
अगर फोटो साफ न दिखे तो फोटो पर क्लिक कर के देख ले


वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस में कैसे ऐड करें ?

अपनी वेबसाइट ऐडसेंस में ऐड करने के लिए आपको एक ऐडसेंस का अकाउंट बना लेना है जैसा कि आपने एनालिटिक्स का बनाया था और वहां पर आपको अकाउंट बनाते समय आपका यूआरएल मांगा जाएगा वहां पर आपको अपना वेबसाइट का url देना है और उसे रिक्वेस्ट टू रिव्यु के लिए भेज देना है ताकि गूगल उसको जांच करें और पता लगाएं कि यह वेबसाइट अप्रूवल लायक है कि नहीं।

वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस से कैसे लिंक करें


वेबसाइट में जल्दी ऐडसेंस का प्रोफाइल कैसे लें ?

इसके लिए आप यह पोस्ट पढ़ सकते हैं पोस्ट देखे या मैं आपको बता देता हूं वेबसाइट में आपको तीन पेज होने जरूरी है Contact Us About Us और Privacy & Policy पेज होने चाहिए आप इन्हे गूगल से tools की मदद से जनरेट कर सकते है  और जो पोस्ट आप कर रहे हैं वह अच्छा कांटेक्ट होना चाहिए दूसरे से मेल खाता हुआ कॉपी कंटेंट नहीं होना चाहिए लंबा होना चाहिए और पढ़ने में अच्छा लगे तो प्रेस काउंसिल होना चाहिए इंगेजमेंट वाला जिसे पढ़ने में मन लगे, गूगल कई बार ऐसी साइट हो रिजेक्ट कर देता है जो अच्छी तरह से डिजाइन नहीं होते मतलब इधर-उधर घूमते रहते हैं जो मैंने जो माउंट करके देखना पड़ता है तब जाकर अच्छे से वह पढ़ पाते हैं उसके बाद अपने छोटा आर्टिकल लिखा है कम से कम 1000 वर्ड का आर्टिकल लिखना चाहिए ब्लॉगर पर अप्रूवल लेने के टाइम पर और अगर आपने दूसरे ऐड नेटवर्क का यूज किया है अपने वेबसाइट पर तो गूगल आप को अप्रूवल नहीं देगा 8 और भी बहुत सारे फैक्टर है।
जैसे लो वैल्यू कंटेंट पॉलिसी वॉयलेशन मतलब की कुछ गलत चीज अपने ब्लॉग पे डाल के रखना।

इतना सब करने के बाद आपको कुछ अलग से ही करना पड़ता है अपनी साइट को रैंक करवाने के लिए जैसे कि दूसरे ब्लॉग्स पर जाकर पोस्ट लिखना या कमेंट करना उसमें अपनी वेबसाइट का लिंक देना ताकि आपका वेबसाइट का बैकलिंक बने बैंकलिंक आप खरीद भी सकते हैं बनवाते रहेंगे तो ठीक रहेगा किसी ब्लॉगर से पूछ कर उसकी ब्लॉग में पोस्ट कर सकते हैं और उसमें अपना लिंग देकर आप बैकलिंक अर्जित कर सकते हैं नहीं तो पिंगलर जैसे बहुत सारे वेबसाइट पर जाकर अपने वेबसाइट को पिंग (धक्का) जरूर कीजिए इससे आप की वेबसाइट को जल्दी इंडेक्स होने में मदद मिलती है क्योंकि पिंग्लर बताता है गूगल को कि आपका एक वेबसाइट भी है जो इस लिंक पर स्थित है।

ऐसे ही करें-करते आपको 20 से 25 पोस्ट लिख देना है और रोज एक-एक पोस्ट डालते रहना है 1000 वर्ड में और फिर आपको वह ऐडसेंस के लिए अपनी साइट को अप्रूवल होने के लिए भेज देना है , ज्यादातर 30 दिन पुरानी साइट की स्वीकृति हो जाती है लेकिन  बहुत दिनों तक हमने देखा है की 3 महीने लग जाते हैं तो आप 2 महीने पहले पोस्ट लिखिए उसके बाद अप्रूवल के लिए भेजे दीजिए और अच्छा कंटेंट लिखे बिना copy का जो नेट पर पहले से उपलब्ध नहीं लिखा है।  या उसके अपने ही सब्दो में दूसरी तरह लिखिए ताकि लोगो को जड़ी से समझ आ जाए।

Conclution

इन तरीकों से आप अपनी वेबसाइट को फ्री में बना सकते हैं और उससे पैसे कमा सकते हैं आशा है आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी अगर यह पोस्ट आपको अच्छी लगी है तो अपने दोस्तों को भी शेयर करें ताकि वह भी इस ज्ञान को जान सके और अगर आपको ऐसे ही टिप्स एंड ट्रिक्स जानने हैं तो नीचे आपको फॉलो का बटन मिल रहा होगा उसे आप हमारे ब्लाग को subscribe कर लीजिए ताकि भविष्य में आने वाली सभी चीजों की जानकारी आपको ईमेल पते द्वारा मिल जाए 


Next Post Previous Post